गायत्री मंत्र अर्थ

ॐ भूर्भुवः स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात् ॥ ॐ – हे सर्वरक्षक…

इंजन दौड़

सर्वप्रथम समावस्था में खड़े हो जाए। अंगूठा अंदर मोड़ कर मुठ्ठी बंद कर ले। दोनों हाथों…

उष्ट्रासन

सर्वप्रथम वज्रासन की स्थिति में बैठ जाएं ।घुटनों पर खड़े होकर अपनी भुजाओं को अपने बगल…

शशांकासन

सर्वप्रथम वज्रासन में बैठ जाए। वज्रासन में बैठने के पश्चात हथेलियों को घुटने के ऊपर रख…

भद्रासन

वज्रासन में बैठ जाएं । घुटनों को जितना संभव हो एक उचित दूरी पर कर ले।पैरों…

वज्रासन

घुटनों के बल जमीन पर बैठ जाए ।पैरों के अंगूठे को एक साथ और एडियो को…

ध्यान विरासन

सर्वप्रथम दंडासन में बैठ जाए अर्थात दोनों पैरों को शरीर के सामने सीधा फैला कर बैठ…

सिद्धासन

पैरों को सामने फैलाकर बैठ जाए।दाहिना पैर मोड़े और लगभग दायी एड़ी के ऊपर बैठते हुए…

पद्मासन

पद्मासन शरीर के सामने पैर फैला कर बैठ जाए।धीरे-धीरे और सावधानीपूर्वक एक पैर मोड़े और पंजे…

अर्ध पद्मासन

अर्ध पद्मासन – शरीर के सामने पैर फैला कर बैठ जाए। एक पैर मोड़ें और उस…